Affiliate Marketing Kya hai? Paise Kaise Kamaye? सम्पूर्ण ज्ञान -->

Follow Us

अगस्त 10, 2021

Affiliate Marketing Kya hai? Paise Kaise Kamaye? सम्पूर्ण ज्ञान

Affiliate Marketing se Paise Kaise Kamaye अगर आपने यही search किया हैं तो बिलकुल इसी का पूरा जवाब इस पोस्ट में आपको मिल जाएगा दोस्तों आजकल हर कोई यह चाहता है कि कोई ऐसा काम कर दिया जाए जो कि करते हुए भी पैसे आए और जब काम न  कर रहे हो तो भी पैसे आते रहे। 

उसी को दोस्तों Passive Income कहते हैं। एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमाना Passive Income ही होता है। 


affiliate marketing kya hai
Affiliate marketing se paise kaise kamaye?



अगर आपने एफिलिएट मार्केटिंग Affiliate Marketing के लिए कोई ब्लॉग बना दिया, या यूट्यूब पर वीडियो डाल दी तो आप सो रहे होगे तो भी आप का काम चालू रहेगा और आप देखेंगे कि रात में ही आपके $500 अकाउंट में क्रेडिट हो गए। 

Affiliate Marketing तो पहले जमाने से ही चला आ रहा है। उस समय जब कोई किसी और का प्रोडक्ट सेल करवाता था तो सेल करने वाला बिकवाने वाले को कुछ कमीशन देता था लेकिन उस समय या उस तरीके में इंसान का उपस्थित होना जरूरी होता है। 

लेकिन आजकल यह काम इंटरनेट के माध्यम से किया जाता है।

सप्ताह में 4 घंटे काम करने के बाद जब एक व्यक्ति सुबह उठता है और अपना लैपटॉप खोल कर देखता है कि अमेजॉन के प्रोडक्ट 408 Deliver income 1728 Dollar और  थर्ड पार्टी प्रोडक्ट डिलीवरी 145 इनकम $94 दोस्तों यह एक सपने के समान है, लेकिन अगर ऐसा हो जाए कि जब आप सो रहे हो तब भी आप पैसा कमाए तो उसे ही एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing) कहा जाता है।

 इसके पीछे Process यह है कि जब आप किसी व्यक्ति या कंपनी का सामान ऑनलाइन मार्केटिंग के माध्यम से बेचते हैं तो उस सामान के बिकने पर आपको जो कमीशन  मिलता है उसे ही एफिलिएट मार्केटिंग कहा जाता है।

 एफिलिएट मार्केटिंग, ज्यादातर ऑनलाइन की जाती है जैसे Blog पर फेसबुक के पेज पर या यूट्यूब चैनल पर या अपनी कोई App बनाकर एफिलिएट मार्केटिंग Revenue Sharing के मॉडल पर काम करती है।

 मान लीजिए आपके पास कोई प्रोडक्ट है और आप इसे बेचना चाहते हैं तो आप इस प्रोडक्ट को प्रमोट करने वालों को एक कमीशन दे सकते हैं। यही Affiliate Program कहलाता है। अगर आपके पास कोई प्रोडक्ट नहीं है। फिर भी आप पैसा कमाना चाहते हैं तो आप Affiliate Marketing करके पैसा कमा सकते हैं। मैंने आपको Affiliate Marketing  के बारे में पहले भी बताया है, लेकिन आज मैं इसे ज्यादा डिटेल में बताना चाहता हूं।




Affiliate Marketing (एफिलिएट मार्केटिंग) क्या है?


एफिलिएट मार्केटिंग एक सिस्टम है जिसमें आप दूसरों के या किसी कंपनी के प्रोडक्ट को प्रमोट करते हैं और प्रोडक्ट के सेल होने पर आपको कमीशन मिलता है या अगर आपके पास कोई प्रोडक्ट है और आप उसे किसी और के माध्यम से बेचते हैं तो उसको जो कमीशन दिया जाता है वही Affiliate Marketing है।


हालांकि विकिपीडिया ने Affiliate मार्केटिंग को चार भागों में बताया है।

 विकिपीडिया के अनुसार इसमें एक व्यापारी होता है और दूसरा प्रोमोटर होता है जिसको पब्लिशर कहा जाता है या उसे एफिलिएट भी कह सकते हैं।
तीसरा कस्टमर होता है जो प्रोडक्ट को खरीदता। जिस माध्यम से प्रमोटर प्रोडक्ट को सेल करता है, उसे चैनल कहते है

 व्यापारी कौन है? कई बार व्यापारी सामान को बनाने वाला या कोई ब्रांड या रिटेलर या वेंडर कोई भी हो सकता है। व्यापारी वह होता है जो प्रोडक्ट को तैयार करता है या बेचता है या कोई बड़ी कंपनी भी हो सकती है। जैसे:-
पार्ले!  बिस्किट बनाती  है।

 कई बार यह कोई सिंगल आदमी भी हो सकता है जो अपने प्रोडक्ट बनाता है और ऑनलाइन बेचता है। यह कोई और भी हो सकता है। व्यापारी कोई भी हो सकता है। सिर्फ उसके पास कोई प्रोडक्ट होना जरूरी है।




Affiliate:-



Affiliate को हम Publisher भी कहते हैं पब्लिशर इसीलिए क्योंकि वह प्रोडक्ट को या तो ब्लॉग पर या वेबसाइट पर या YouTube चैनल फेसबुक पेज के माध्यम से सामान को बेचता है। एफिलिएट मार्केटिंग व्यापार में Affiliate हजारों डॉलर प्रति महा भी कमा रहे हैं। यह उसकी मार्केटिंग पर Depend करता है।

एक 
Affiliate के पास एक से ज्यादा प्रोडक्ट हो सकते हैं उसे वह अपनी वेबसाइट पर बेच सकता है उसके मार्केटिंग का ढंग अच्छा होना चाहिए। जो हम आपको आगे अच्छे से सिखाएंगे।




उपभोक्ता


 उपभोक्ता वह व्यक्ति या कंपनी होती है जो प्रोडक्ट को प्रयोग करती है।
उपभोक्ता किसी प्रोडक्ट को खरीदने से पहले उसके बारे में रिसर्च करना पसंद करता है। उसी समय या तो वह ब्लॉग पढ़ता है या यूट्यूब चैनल पर
रिसर्च करता है। उसी समय 
Affiliate के द्वारा किया गया प्रयास उसके सामने आता है और वह उस लिंक पर क्लिक करके प्रोडक्ट को खरीद लेता है तो एफिलिएट को कमीशन बन जाता है।


बहुत सी बार उपभोक्ता को पता ही नहीं चलता कि वह एफिलिएट मार्केटिंग सिस्टम का हिस्सा बन गया है। कई बार एफिलिएट इस बात को बता देता है कि आप हमारे लिंक के माध्यम से नए सामान खरीद रहे हो तो हमें कमीशन मिलता है या बहुत सी बार बताता भी नही, यह एक ऐसा सिस्टम है जो बैकग्राउंड में काम करता है


मान लीजिए, आपको एक मोबाइल खरीदना है तो आप गूगल पर सर्च करेंगे Best Mobile under 10000 आपके सामने बहुत सारे वेबसाइट के लिंक आ जाते हैं। यह अधिकतर एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा बनाई गई वेबसाइट की होती है जो आपको 10000 के अंदर के मोबाइल बताती है।
उनकी Specifications और Review बताते हैं और उसके सामने किसी बड़ी वेबसाइट जैसे अमेजॉन का लिंक दिया रहता है जब आप उस लिंक पर क्लिक करके वह सामान खरीद लेते हैं तो उसको कमीशन जेनरेट हो जाता है।




Network





Affiliate marketing में नेटवर्क का भी महत्वपूर्ण रोल है। नेटवर्क होता है।
जैसे- यूट्यूब चैनल, फेसबुक पेज या Blog.




कई बार कुछ बड़ी कंपनी भी है जैसे Clickbank और कमीशन जंक्शन हैंडल! यह आपके लिए काम करते हैं। जैसे अगर आपको एफिलिएट मार्केटिंग करनी है तो आपको कई सारी वेबसाइट से एफिलिएट ज्वाइन करना होगा। लेकिन यह बड़ी कंपनी आपके लिए सभी बड़ी अमेजॉन, Flipkart जैसी कंपनियों से एफिलिएट प्रोग्राम लेकर आपको एक ही जगह Provide करवा देती है। ताकि आपको अलग-अलग जगह पर अकाउंट ना बनाना पड़े।




निष्कर्ष।


मेरे हिसाब से नेटवर्क एफिलिएट मार्केटिंग में दो ही पार्टी Main होती है या तो व्यापारी या एफिलिएट Marketer. मतलब एफिलिएट मार्केटिंग करने वाला। या तो आप अपना सामान दूसरों के माध्यम से बेचोगे या दूसरों का सामान अपने माध्यम से, इसके लिए आपको एक ब्लॉग बना लेना चाहिए।




मर्चेंट कैसे बने?


अगर आप एफिलिएट प्रोग्राम में मर्चेंट बनना चाहते हैं, तो यह चार चीजें आप कर सकते हैं। सबसे पहले आपके पास कोई प्रोडक्ट होना चाहिए।
या तो वह प्रोडक्ट मार्केट में पहले से हो या फिर कुछ नया प्रोडक्ट

प्रोडक्ट का आईडिया होने के बाद आपको Product तैयार करना होता है यह Vertual भी हो सकता है या Physical भी लेकिन यह तैयार होना चाहिए।

अगर यह डिजिटल प्रोडक्ट है तो इसमें आपका बहुत समय लगने वाला है और अगर यह Physical Product है तो इसमें आपका पैसा लगने वाला है। इस बात का आप ध्यान रखिए।

उसके बाद! आपको एफिलिएट Promoters जोड़ने पड़ेंगे या फिर आप क्लीकबैंक जैसी कंपनी को भी अपने प्रोडक्ट बेचने के लिए कह सकते हैं, उनके पास बहुत सारे प्रमोटर होते हैं।

और अंत में!

जब वह आपका प्रोडक्ट प्रमोट करेंगे तो आपको प्रोडक्ट सेल करना है। अपना पैसा बनाना है व उनका कमीशन भी देना है



लोग अक्सर कहते हैं कि नए प्रोडक्ट का आइडिया मुश्किल है, लेकिन ऐसा नहीं है। आइडिया आना तो आसान होता है लेकिन मुश्किल जो है आइडिया को वास्तव में जमीन पर लाना।




आपके पास जो भी आईडिया हो उसके लिए आपको सीरियस होना पड़ेगा तथा उस पर काम करना होगा।




आपको मैं बता देना चाहता हूं कि डिजिटल प्रोडक्ट क्या होता है। डिजिटल प्रोडक्ट में आपकी ऑनलाइन टीचिंग या महिलाओं के लिए कोई कोर्स या डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स यह सब डिजिटल प्रोडक्ट है। यह कोर्स बेचने पर भी काफी पैसा मिल जाता है और आपको सिर्फ एक बार इसे तैयार करना होता है। फिर चाहे लाखों लोग खरीदे या करोड़ों आपका कोई एक्स्ट्रा खर्चा नहीं लगता है।




एफिलिएट मार्केटिंग से पैसा कैसे कमाए दोस्तों अब मैं आपको एफिलिएट बनने के बारे में बताता हूं। आप कई प्रकार के एफिलिएट प्रोग्राम ज्वाइन कर सकते हैं जो कि इस प्रकार है। 

PPC Model (Pay Per Click)


इस मॉडल में आपको मर्चेंट का प्रोडक्ट दिखा कर उस पर क्लिक करवाना होता है जितने अधिक क्लिक होगे उतना ही आपका कमीशन होगा इसमें सामान सेल करने की जिम्मेवारी आपकी नहीं होती।

Pay Per Sale

 दूसरा मॉडल है पेपर सेल इस मॉडल में अगर सामान बिकता है तो ही आपका कमीशन बनता है। अगर क्लिक हुआ लेकिन सामान सेल नहीं हुआ तो आपको कमीशन नहीं मिलता।




Pay Per Lead




इस मॉडल में आपको मर्चेंट के लिए लीड जनरेट करनी होती है जैसे विजिटर्स का कांटेक्ट, नंबर, ईमेल एड्रेस आदि भरवा कर मर्चेंट तक पहुंचाना होता है। उसका आपको कमीशन मिल जाता है।




अब मैं आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने वाला हूं जिससे एफिलिएट मार्केटिंग में अच्छा पैसा बना सकते हैं। जैसा कि आपको पता है एफिलिएट मार्केटिंग एक पैसिव इनकम का स्रोत है।




इसमें कंपटीशन बहुत होता है। यह तो सच्चाई है लेकिन पैसा भी आराम से बनता है। आपको सिर्फ एक बार काम करना होता है। उसके बाद बार-बार पैसा आता है।




सबसे पहला नियम है।

Patience 

अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग पर काम करते हैं तो आपको सबर करना होगा। आपको अपनी वेबसाइट बनानी होगी और उस पर अच्छे-अच्छे आर्टिकल डालने हो गए तथा गूगल पर रैंक करना होगा। एफिलिएट मार्केटिंग के इवेंट, सेमिनार में आपको सीखना होगा।




आप नए नए लोगों से मिलोगे आपके Skills Develop  होge ।




आप लोगों को कुछ सिखाओगे और कुछ उनसे सीखोगे।




अगर आपके पास समय है, तो आप मार्केटिंग से अच्छा पैसा कमा सकते हैं।




अच्छे प्रोडक्ट चुने:-

इंटरनेट की दुनिया में आपको बहुत सारे प्रोडक्ट सेल करने के लिए मिल जाएंगे, लेकिन यह आप पर डिपेंड करता है कि आप उनमें से कुछ ही लेकिन अच्छे प्रोडक्ट चुने। आप सभी प्रोडक्ट को एक साथ सेल नहीं कर सकते तो मेरी सलाह यह है कि आप एक ही कैटेगरी के प्रोडक्ट चुने और उसी वेबसाइट का चुनाव करें जो अच्छा कमीशन देती हो।




आप लोगों की फायदे के बारे में भी सोचे ना कि सिर्फ अपने कमीशन के बारे में इसीलिए सिर्फ अच्छे प्रोडक्ट का चुनाव करें जो लोगों को भी कुछ फायदा दे। क्योंकि जब कस्टमर आपका हो जाएगा तो पैसों की बारिश होने लगेगी।




कई प्रकार के ट्रैफिक सोर्स:-


जितना अधिक आप अपने मर्चेंट की वेबसाइट पर ट्रैफिक भेजेंगे। उतने ही ज्यादा चांस होते हैं प्रोडक्ट के सेल होने के। इसीलिए हमारी सलाह यह है कि आप बblog भी बनाएं, यूट्यूब चैनल भी बनाएं। फेसबुक पेज भी बनाएं और सभी प्रकार से अधिक से अधिक ट्रैफिक अपने मर्चेंट की साइट पर भेजें। आप गूगल की ऐड भी लगा सकते हैं, इसमें कुछ गलत नहीं है।




लेकिन आपका उद्देश्य है यही होना चाहिए कि अधिक से अधिक ट्रैफिक अपने मर्चेंट की वेबसाइट पर भेजें।




निष्कर्ष।




मैंने जो आपको। एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमाने के तरीके बताएं हैं तथा कुछ नीतियां भी बताई है। आप उनका उपयोग करें और बहुत ही अच्छा पैसा कमाए।




एफिलिएट मार्केटिंग पैसिव इनकम का बहुत अच्छा सोर्स है। इस बात को ना भूले और मेरे इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले दोस्तों अगर कुछ हमसे रह गया हो तो कमेंट करके पूछ सकते हैं।


 एफिलिएट मार्केटिंग से कितना पैसा कमा सकते हैं? या एफिलिएट मार्केटिंग में कितना कमीशन मिलता है?




दोस्तों यह सवाल हमेशा आपके मन में आता होगा कि एफिलिएट मार्केटिंग से हम कितना पैसा कमा सकते हैं तो इसका जवाब यह है कि जितनी अधिक प्रोडक्ट या सर्विसेज आप बेचेगे उतना ही ज्यादा आप कमा सकते हैं। अगर आपने एक ब्लॉग बनाया और उस पर कुछ प्रोडक्ट डाल दिए और वह आपका पेज Boost हो गया। मतलब किए गूगल में अच्छे से रैंक हो गया तो फिर आप सोते रहिए और पैसा बढ़ता रहेगा। 

यह सच है। अब बात आती है कितना कमीशन मिलता है जहां तक मैंने देखा है Services सेल करने पर कमीशन बहुत ज्यादा मिलता है जबकि प्रोडक्ट बेचने पर कमीशन कम क्योकि प्रोडक्ट में कंपनी का लागत भी आई है और आपको कमीशन भी देना है, लेकिन अगर सर्विसेज की बात हो तो कंपनी का कोई खर्चा नहीं होता। सिर्फ आपको कमीशन देना है। बाकी सब कंपनी का फायदा है। इसीलिए सर्विसिंग सेल करने पर कमीशन ज्यादा मिलता है।

 एक Example से आपको समझाता हूं। मान लीजिए, आपकी मोबाइल की दुकान है, उसमे विभिन्न कंपनियों के मोबाइल रखे गए। कोई कंपनी आपको 10 पर्सेंट कमीशन देती है तो कोई 15% इसी प्रकार एफिलिएट में एक ही प्रोडक्ट पर 5% कमीशन, किसी प्रोडक्ट पर 10% कमीशन सर्विसेज पर लगभग 50 परसेंट तक कमीशन मिल जाता है। मैं आपको कुछ अच्छे एफिलिएट नेटवर्क बता देता हूं।


नंबर 1 Amazon एफिलिएट प्रोग्राम 
नंबर, 2 Flipkart एफिलिएट प्रोग्राम
 नंबर, 3 Godaddy Affiliate Program 
 नंबर 4 Ebay एफिलिएट प्रोग्राम 
नंबर, 5 Shopclues एफिलिएट प्रोग्राम




यह सभी कंपनी!




इनमें से तीन कंपनी तो प्रोडक्ट बेचती, 2 सर्विसेज बेचती है। ऐसे बहुत सारे नाम आपको गूगल पर सर्च करने से मिल जाएगी।




मैं आपको अमेजॉन एफिलिएट का Example देकर समझाता हूं।


आप यह भी पढ़े 

Online Paise kamane ka tarika - महीनें के 70000





आप को सबसे पहले अमेजॉन एफिलिएट के पेज पर जाना है। वहां पर अपना नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि डालकर रजिस्ट्रेशन कर लेना है। फिर आप जब Login करोगे तो आप देखोगे कि आपके सामने सभी प्रकार के प्रोडक्ट आ गए जो अमेजॉन पर उपलब्ध है। यहां से आप एक कैटेगरी सिलेक्ट कर ले। मान लीजिए- मोबाइल आपने जब मोबाइल पर क्लिक किया तो आपके सामने सभी मोबाइल आ गए। अब आप इनमें से ₹10000 तक के मोबाइल सिलेक्ट करें और एक पोस्ट लिखें जो आपकी वेबसाइट पर पब्लिश करनी है। 

उसका Heading लीजिए Best Mobile Under 10000, क्योंकि इसे ही लोग गूगल पर सर्च करते हैं तो ज्यादा चांस रहेंगे आपकी पोस्ट आगे आने की, क्योंकि जब आपकी पोस्ट आगे आएगी तभी तो कस्टमर उस पर क्लिक करेगा। वह कस्टमर उसे पढ़ेगा जो मोबाइल उसे पसंद आएगा, उस पर क्लिक करेगा तो वह सीधा अमेजॉन की वेबसाइट पर पहुंच जाएगा।

 अगर उसने वह मोबाइल खरीद लिया तो आपको लगभग 4 परसेंट का कमीशन मिलेगा। अमेजॉन आपको कमीशन 3 महीने के बाद देता है। इस बात का ध्यान रखें। तो दोस्तों उम्मीद करता हूं। आपको अब समझ आ गया होगा कि Affiliate Marketing कितना कमीशन देता है
This Is The Newest Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
This Is The Newest Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post

Most Recent Post

 

Delivered by RSSFEED